शिक्षक दिवस पर निबंध। shikshak diwas par nibandh

Shikshak Divas per nibandh

शिक्षक दिवस प्रत्येक वर्ष 5 सितंबर को मनाया जाता है, इस दिन डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्म हुआ था, जो कि हमारे देश के राष्ट्रपति रह चुके हैं इसीलिए उनके जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।

हर व्यक्ति के जिंदगी में एक शिक्षक का बहुत बड़ा महत्व होता है शिक्षक हमें इस दुनिया के बारे में सिखाते और समझाते हैं, शिक्षक के बिना किसी भी प्रकार का ज्ञान प्राप्त करना मुश्किल है ।

शिक्षक ईश्वर के द्वारा प्रदान किया गया वह उपहार है, जो बिना किसी भेदभाव के अपने सभी छात्र को अच्छे ज्ञान को बांटते है। खुद भगवान जी ने गुरु का स्थान अपने आप से ऊपर बताया है।

इसीलिए आज भी 5 सितंबर को सभी स्कूल कॉलेज आदि संस्थानों में शिक्षकों को सम्मानित किया जाता है और उन्हें सभी छात्र उपहार देते हैं। हमारे देश में शिक्षक दिवस को एक त्यौहार के रूप में मनाया जाता है।

बहुत से कॉलेज और स्कूलों में समारोह रखे जाते हैं और उस समारोह में सभी अध्यापक को सम्मानित किया जाता है और उनके लिए गाना गाया जाता है। सभी विद्यार्थी अपने शिक्षकों का हमेशा सम्मान करते हैं। क्योंकि शिक्षा के किसी भी व्यक्ति के अज्ञानता को दूर कर सकता है

अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस 5 अक्टूबर को मनाया जाता है और हमारे भारत में डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।

शिक्षक दिवस पर निबंध 10 लाइन

  1. भारत में शिक्षक दिवस हर साल 5 सितंबर को मनाया जाता है।
  2. इस दिन डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्म हुआ था इसीलिए इनके जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।
  3. अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस 5 अक्टूबर को मनाया जाता है।
  4. शिक्षक का महत्व सबसे ज्यादा होता है क्योंकि इनके बिना अज्ञानता दूर नहीं हो सकती है।
  5. भगवान खुद गुरु का पद सबसे ऊंचा बताया है।
  6. गुरु हमारे अज्ञानता को दूर करके हमें अच्छी बातें सिखाते हैं।
  7. शिक्षक दिवस के दिन सभी विद्यार्थी अपने प्रिय शिक्षक को उपहार देते हैं।
  8. शिक्षक के सम्मान में समारोह आयोजित किया जाता है।
  9. समारोह में विद्यार्थी निबंध और गाने और भाषण प्रस्तुत करते हैं।
  10. शिक्षक का सम्मान विद्यार्थी हमेशा करते हैं।

2 thoughts on “शिक्षक दिवस पर निबंध। shikshak diwas par nibandh”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *