जल प्रदूषण पर निबंध | Jal Pradushan Par Hindi Nibandh

आज मैं आपको जल प्रदूषण पर निबंध (jal pradushan par nibandh) हिंदी में बताने वाला हूं और जल प्रदूषण के कारण क्या क्या होते हैं और इसे कैसे ठीक किया जा सकता है। ये निबंध आप किसी भी कक्षा 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10,11,12 के लिए लिख सकते है।

जल प्रदूषण पर निबंध
जल प्रदूषण पर निबंध

● जल प्रदूषण पर निबंध ●

प्रस्तावना :-

जल प्रदूषण बहुत बड़ा संकट है जिस पर कोई भी ध्यान नहीं दे रहा है, जिस तरह आज के समय में जल प्रदूषण बढ़ता जा रहा है ऐसे आगे चलकर पीने का पानी लगभग खत्म ही हो जाएगा और पानी खत्म होने के बाद जीव जंतुओं का बचना मुश्किल है इसीलिए कहा जाता है कि “जल ही जीवन है”

जल प्रदूषण

आज के समय में बहुत से ऐसे साधन बन गए हैं जिससे हमारे जीवन को बहुत ही आसानी होती है लेकिन उससे हम जल को दूषित भी करते हैं जैसे की फैक्ट्रियों में बनने वाला सामान जो हमारे बहुत उपयोगी होता है लेकिन उस सामान को बनाते समय उस फैक्ट्री से बहुत सारा खराब पानी निकलता है जिसे साफ पानी में मिला दिया जाता है।

भारत में जल प्रदूषण की समस्या बहुत ही तेजी से बढ़ रही है यहां पर लोग जानते हुए भी जल प्रदूषण कर रहे हैं, यहां पर खुद को सुधारने के बजाय एक दूसरे को जल प्रदूषण का दोष देते रहते हैं।

अगर इस समस्या का समाधान जल्द नहीं हुआ तो आगे चलकर बहुत सारे जाने जा सकती हैं, भारत सरकार भी कहती है कि जल प्रदूषण न करें लेकिन अगर वह भी अपना काम और अच्छे से करें तो जल प्रदूषण कम किया जा सकता है।

जल प्रदूषण के नुकसान

अगर जल प्रदूषण का स्तर इसी तरह तेजी से बढ़ता रहेगा, तो इससे बहुत ही ज्यादा नुकसान होगा जैसे कि:-

  • पानी पीने लायक नहीं रहेगा
  • जब पानी पीने लायक नहीं रहेगा तो लोग खराब पानी पिएंगे इससे बहुत सारी बीमारियां उत्पन्न होंगी
  • लोगो की मृत्यु जल्दी हो जाएगी।
  • पेड़ पौधे सब सब सुख जाएंगे जिससे वायु प्रदूषण की भी समस्या बढ़ जाएगी।

जल प्रदूषण के कारण

जल प्रदूषण के बहुत सारे कारण हैं और ये सभी मुख्य कारण है जल प्रदूषण के:-

  • फैक्ट्रियों से निकलने वाला गंदा पानी
  • जल में जानवरों नहलाने से
  • कचरा फेकने से
  • शवो को जल में बहाने से
  • गंदे नाले के पानी को साफ पानी मे गिराने से
  • साफ पानी को फालतू में खराब करना
  • कोई भी खराब या गंदा समान साफ पानी में फेकना

जल प्रदूषण के समाधान

जल प्रदूषण को रोकना हम सभी के हाथ में हैं सभी लोगों को एक साथ जल प्रदूषण का निवारण करना होगा किसी एक व्यक्ति से जल प्रदूषण का समाधान नहीं हो सकता है, जल प्रदूषण का समाधान करने के लिए इन सभी बातों का ध्यान देना होगा:-

  • नलों से फालतू का पानी खराब नहीं करना है।
  • फैक्ट्रियों का कचड़ा अच्छे पानी में नहीं मिलाना है।
  • नदियों में शवो को नहीं बहाना है।
  • नदियों में जानवरों को नहीं नहलाना है।
  • पेड़ पौधों को लगाना है ताकि वातावरण सही बना रहे।
  • किसी भी तरह का कचरा पन्नी साफ पानी में या तालाब, नदी में नहीं बहाना है।
  • कोई भी व्यक्ति जल प्रदूषित करता मिले तो उसे जल को दूषित करने से रोकना है और उसे जल प्रदूषण के बारे में समझाना है।
  • छत की टंकी भरने के बाद मोटर बंद कर दें कुछ लोग मोटर चालू करें रहते हैं और पानी खराब होता रहता है।
  • इसी प्रकार आपको ऐसा कोई भी काम नहीं करना है कि जिससे जल प्रदूषण बढ़े।

निष्कर्ष – जल प्रदूषण पर निबंध

जल प्रदूषण केवल हमारे भारत में ही नहीं बल्कि पूरी पृथ्वी पर बढ़ता जा रहा है इसे हमें कम करना होगा, हमे केवल उतना ही पानी का इस्तेमाल करना है जितना मुझे जरूरत है फालतू में पानी नही खराब करना है।

Jal Pradushan Par Nibandh

जल प्रदूषण पर निबंध 10 Lines

  1. मानव जीवन के लिए जल प्रदूषण बहुत ही बड़ी समस्या है।
  2. जल प्रदूषण को सबसे ज्यादा मनुष्य ही बहा रहा है।
  3. जल प्रदूषण बढ़ने से पीने का पानी खत्म हो जाएगा।
  4. जिससे जीव जंतुओं की मृत्यु होने लगेगी।
  5. हमारी पृथ्वी पर बहुत सारा पानी है लेकिन उस पानी का केवल 1% ही पीने लायक है।
  6. आज के समय में लोग पानी को बहुत ही ज्यादा खराब कर रहे हैं।
  7. जल प्रदूषण तालाब में कचरा फेंकने से होता है।
  8. किसी भी साफ पानी में गंगा सामान कचरा या गंदा पानी फेंकने से जल प्रदूषण बढ़ता है।
  9. जल प्रदूषण कम करने के लिए हमें साफ पानी की बर्बादी नहीं करनी चाहिए हमें पानी बचाना चाहिए।
  10. हमें कोई भी ऐसा कार्य नहीं करना चाहिए जिससे जल प्रदूषण की समस्या उत्पन्न हो।

मेरे अंतिम शब्द (जल प्रदूषण पर निबंध)

तो अब आपको पता चल गया कि जल प्रदूषण कैसे होता है और इनके कारण क्या क्या है और जल प्रदूषण को कैसे रोका जा सकता है इसके समाधान क्या है, तो आप हमें जल प्रदूषण को रोकना है और किसी को जल प्रदूषण करने नहीं देना है ध्यान रहे कि आप जल प्रदूषण होने से रोकेंगे तो दूसरा भी रोकेगा।

दोस्तों यहां पर मैंने आपको जल प्रदूषण पर निबंध हिंदी में बता दिया है और जल प्रदूषण के कारण भी और इसके समाधान है अगर आपको जल प्रदूषण पर निबंध के अलावा किसी और टॉपिक पर निबंध चाहिए तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं या फिर इस वेबसाइट पर सर्च करें आपको वह निबंध जरूर मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *