corona virus par nibandh (कोरोना वायरस पर निबंध)

2020 हम सभी के लिए बहुत ही खराब हो रहा है क्योंकि कोरोना वायरस की वजह से इस पूरे साल को लॉकडाउन में ही बिताना पड़ा इसलिए आज मैं आपको कोरोना वायरस पर निबंध हिंदी में बताने वाला हूं क्योंकि यह परीक्षा में आ सकता है।

कोरोना वायरस पर निबंध

coronavirus par nibandh (कोरोना वायरस पर निबंध)
coronavirus par nibandh (कोरोना वायरस पर निबंध)

प्रस्तावना

कोरोना वायरस एक ऐसी महामारी है जिसका इलाज अभी तक नहीं मिला है कोरोना वायरस से लाखों लोगों की जान जा चुकी है और करोड़ों लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं कोरोनावायरस से बचना बहुत ही जरूरी है क्योंकि यह जानलेवा महामारी है।

कोरोना वायरस के जन्म के बारे में

कोरोना वायरस की शुरुआत चाइना के वुहान शहर से शुरू हुआ था क्योंकि कोरोना वायरस का सबसे पहला मरीज यहीं पर मिला था लेकिन शुरुआत में इसे ध्यान नहीं दिया गया और यह वायरस बहुत तेजी से फैलने लगा और फिर इसके बाद वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन इस को महामारी घोषित कर दिया।

जब लोगों को पता चला कि या वायरस जानलेवा है तो सभी लोगों ने सतर्कता दिखाना शुरू कर दिया, सभी देशों के सरकारों ने अपने अपने देश को लॉकडाउन और सुरक्षित करने लगा।

भारत में लॉकडाउन

भारत में सबसे पहला लॉकडाउन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 24 मार्च से 21 दिनों के लिए लगाया गया था यह लॉकडाउन पूरे भारत पर संपूर्ण लॉकडाउन था इसमें कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकल सकता था।

कोरोना वायरस के लक्ष्ण

अगर आप गलती से किसी कोरोना वायरस मरीज के संपर्क में आ जाते हैं तो आपको भी कोरोना हो सकता है इसके कई सारे लक्षण है जैसे कि आपको तेजी से खांसी आना और तेजी से बुखार आना और सांस लेने में तकलीफ होना। अगर आपको यह सब लक्षणों पाए जाते हैं तो या हो सकता है कि आपको कोरोना हो लेकिन जरूरी नहीं है कि हर खांसी जुखाम कोरोना वायरस ही हो।

लक्षण पाए जाने पर क्या करें

अगर आपके शरीर में यह सभी लक्षण पाए जाते हैं तो आपको सबसे पहले खुद को सभी लोगों से दूर कर लेना है और उसके बाद आपको कोरोना वायरस के सरकारी हेल्पलाइन नंबर 1075 पर फोन करके सूचना देनी है या फिर आप अपना कोविड-19 टेस्ट करा सकते हैं जिससे यह पता चल जाएगा कि आपको कोरोना वायरस है या नहीं।

अगर आपको कोरोना वायरस होता है तो आप का इलाज किया जाएगा आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि किसी भी रोग का सबसे बड़ा दवा मानसिक मजबूती है अगर आपका हिम्मत है और आप यह सोच रहे हैं कि आपको कुछ नहीं होगा आप ठीक हो जाएंगे तो आप जरूर ठीक हो जाएंगे तो इसलिए आपको कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है।

कोरोना वायरस से बचने के उपाय

अगर अभी आप बिल्कुल ठीक हैं और स्वस्थ हैं तो आप अपना बचाव खुद से कर सकते हैं क्योंकि अभी तक इसकी वैक्सीन नहीं आई हुई है इसलिए आप अपने घर में रहे और जरूरत पड़ने पर या कोई सामान लेने के लिए घर का कोई एक जिम्मेदार सदस्य बाहर निकले।

और जो भी बाहर निकले वह व्यक्ति मास्क और हाथों में दस्ताने और सैनिटाइजर साथ लेकर निकले और सभी लोगों से दूरी बनाकर रखें आपको किसी भी व्यक्ति के संपर्क में नहीं आना है आपको 2 गज की दूरी बनाकर रखनी है इसी तरह से आप कोरोना वायरस से बच सकते हैं।

उपसंघार

कोरोना वायरस से बचने के लिए सरकार के द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन जरूर करें और अगर किसी व्यक्ति को कोरोना हुआ है तो उस व्यक्ति के बारे में टोल फ्री नंबर पर कॉल करके बताएं जिस व्यक्ति को कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है, कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाने पर अगर आप भागते हैं तो इससे आप अपनों और दूसरों के जिंदगी के साथ खेल रहे हैं तो आप एक जिम्मेदार व्यक्ति बन कर सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें। { कोरोना वायरस पर निबंध समाप्त }

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *