आतंकवाद पर निबंध – Hindi essay on Terrorism | Hindi Nibandh

आज हम आतंकवाद पर निबंध 100, 200, 300, 400, 500 शब्दों में जानेंगे यह निबंध आप किसी भी कक्षा के छात्र पढ़ सकते हैं जैसे 1,2,3,4,5,6,7,8,9, 10, 11, 12। आपको जितने भी शब्दों में निबंध लिखना है आप इस निबंध को पढ़कर अपने हिसाब से छोटा कर सकते हैं।

आतंकवाद पर निबंध - Hindi essay on Terrorism | Hindi Nibandh
आतंकवाद पर निबंध – Hindi essay on Terrorism | Hindi Nibandh

■ आतंकवाद पर निबंध ■

प्रस्तावना

आतंकवाद लगभग सभी देशों में फैला हुआ है आतंकवाद बहुत ही ज्यादा खराब है इसमें लोगों को मारा जाता है और उनसे अपने मन मुताबिक काम कराया जाता है आतंकवाद सरकार को भी गिराने का काम करती है जिससे देश की शांति भंग होती है।

आतंकवाद

हमारे देश भारत में भी आतंकवाद बहुत ही ज्यादा नुकसान कर रहा है आतंकवाद में बहुत सारे लोग होते हैं जो गलत रास्तों का इस्तेमाल करके अपने मन मुताबिक कार्यों को अंजाम देते हैं, हमारा हिंदुस्तान भी कई सालों से आतंकवाद से लड़ रहा है आतंकवाद लोगों के द्वारा ही फैलाया जाता है और जो लोग आतंकवाद का साथ देते हैं उन्हें आतंकवादी कहा जाता है।

हिंदुस्तान देश में सबसे ज्यादा आतंकवाद पाकिस्तान के सीमा रेखा से ही होता है आतंकवादी कई बार हमारे देश में घुसने की कोशिश की है और ज्यादातर घुसपैठ की वजह से मारे ही गए हैं लेकिन आतंकवादी लोग बार-बार कोशिश करते रहते हैं जिसमें यह कभी-कभी कामयाब भी हो जाते हैं। जैसे कि मुंबई में आतंकवादी घुस आए थे और उन्होंने बहुत सारे लोगों को मारा, आतंकवादियों ने सबसे ज्यादा ताज होटल में लोगों को मारा यह हमला आज भी हर एक हिंदुस्तानी को पता है।

इसीलिए आतंकवाद को रोकने के लिए हमारे सेना के जवान हिंदुस्तान के सीमा पर खड़े रहते हैं जो आतंकवादियों को भारत में घुसने से रोकते हैं और उन्हें वहीं पर मार दिया जाता है ताकि हम सभी लोग अपने देश के अंदर सुरक्षित रहें।

आतंकवाद से हमेशा मानवता का नुकसान ही हुआ है आतंकवाद को बहुत सारे लोग अपनी जरूरतों को पूरी करने के लिए जुड़ जाते हैं लेकिन इसका अंजाम बहुत ही ज्यादा बुरा होता है, आतंकवादी लोगों के पास बहुत ही खतरनाक खतरनाक हथियार होते हैं जिससे यह लोग कहीं भी हमला कर सकते हैं।

आतंकवाद को रोकने के लिए हमारी सेना के जवान और हमारी सरकार डट कर लगी हुई है इसीलिए आज के समय में भारत में आतंकवाद को कोई भी आतंकवादी अंजाम नहीं दे पा रहा लेकिन जब हमारे देश का ही कोई व्यक्ति आतंकवादियों से मिल कर अपने ही देश के साथ गद्दारी करता है तब हमारे देश को बहुत ज्यादा खतरा होता है और ऐसे ही लोगों से सबसे ज्यादा अपने देश को खतरा है।

कई सारे देश है ऐसे हैं जो आतंकवाद को पालते हैं वे लोग अपने ही देश में लोगों को आतंकवाद में जबरन जोड़ा जाता है और उनके बच्चों को आतंकवादी बनाने के लिए पकड़ लिया जाता है, और उन्हें गलत चीजें सिखाई जाती हैं जिससे वह बच्चे बड़े होकर आगे चलकर आतंकवादी बन जाते हैं। इन बच्चों के दिमाग में बचपन से ही झूठे भ्रम में रखा जाता है और इनसे मनचाहा कार्य कराया जाता है। यह बच्चे बड़े होकर भी नहीं समझ पाते हैं क्योंकि इन्हें गलत चीज इस तरह सिखाया जाता है की यह लोग बड़े होकर इन्हें खराब कार्य भी अच्छे लगते हैं।

निष्कर्ष

अगर हमें आतंकवाद को कम करना है इसके लिए हमें अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देनी है और उन्हें सही और गलत का फर्क समझाना है अगर उन बच्चों का मन भारतीय आर्मी मे जुड़ने का मन है तो उन्हें किसी और चीजों के लिए मजबूर न करें उन्हें देश की सेवा के लिए आर्मी में जोड़ें और आर्मी में क्या-क्या जरूरी बातें क्या ध्यान देना होता है और भारतीय सेना में जुड़ने के लिए किन किन बातों का ध्यान देना होता है उन्हें भी बताएं। और यही बच्चे आगे चलकर भारतीय सेना में जोड़कर आतंकवाद के खिलाफ बहुत ही बड़ी लड़ाई लड़ेंगे और आतंकवाद को खत्म करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *